कन्या राशिफल Kanya Rashifal 2022

kanya rashifal

कन्या राशिफल Kanya Rashifal 2022

कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) के लिये गोचरीय स्थिति : 

कन्या राशिफल ( kanya राशिफल ) 2022 के लिये शनि की स्थिति

  • शनि का गोचर अपने स्व राशि मकर अर्थात पञ्चम भाव में वर्ष के प्रारम्भ से रहेगा,
  • शनि 29 अप्रैल 2022 को अपनी मूल त्रिकोण राशि कुम्भ अर्थात षष्ठम भाव में प्रवेश करेगा,
  • शनि 5 जून 2022 से वक्री हो जायेगा,
  • शनि 12 जुलाई 2022 को वक्री अवस्था में ही अपनी पूर्व राशि मकर में प्रवेश करेगा,
  • शनि 23 अक्टूबर 2022 से मार्गी हो जायेगा,

शनि का नक्षत्र भ्रमण

  • श्रवण नक्षत्र में वर्ष के प्रारम्भ से
  • धनिष्ठा नक्षत्र में 18 फरवरी 2022 से

कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) 2022 के लिये बृहस्पति की स्थिति

  • बृहस्पति का गोचर कुम्भ राशि अर्थात षष्ठम भाव में वर्ष के प्रारम्भ से रहेगा,
  • बृहस्पति 13 अप्रैल 2022 को अपनी स्वराशि मीन अर्थात सप्तम भाव में प्रवेश करेगा,
  • बृहस्पति 29 जुलाई 2022 से वक्री हो जायेगा,
  • बृहस्पति 24 नवंबर 2022 से मार्गी हो जायेगा,

बृहस्पति का नक्षत्र भ्रमण

  • शतभिषा नक्षत्र में 2 जनवरी 2022 से
  • पूर्व भाद्रपद नक्षत्र में 2 मार्च 2022 से
  • उत्तर भाद्रपद नक्षत्र में 28 अप्रैल 2022 से

कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) 2022 के लिये राहु की स्थिति

  • राहु का गोचर वृष राशि अर्थात नवम भाव में वर्ष के प्रारम्भ से रहेगा,
  • राहु 12 अप्रैल 2022 को मेष राशि अर्थात अष्टम भाव में प्रवेश करेगा,

राहु का नक्षत्र भ्रमण

  • भरणी नक्षत्र में 14 जून 2022 से

कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) 2022 के लिये केतु की स्थिति

  • केतु का गोचर वृश्चिक राशि अर्थात तृतीय भाव में वर्ष के प्रारम्भ से रहेगा,
  • केतु 12 अप्रैल 2022 को तुला राशि अर्थात द्वितीय भाव में प्रवेश करेगा,

केतु  का नक्षत्र भ्रमण

  • विशाखा नक्षत्र में 8 फरवरी 2022 से
  • स्वाति नक्षत्र में 18 अक्टूबर 2022 से

कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) :

कन्या राशिफल में ग्रहों की स्थितियों के अनुसार यह वर्ष आपके लिये अच्छा रहेगा, शास्त्रों के अनुसार सप्तम भाव में बृहस्पति का गोचर अत्यंत लाभकारी होता है 13 अप्रैल के पश्चात स्वराशिस्थ बृहस्पति सप्तम भाव में गोचर करेगा जहां से बृहस्पति की दृष्टि लग्न; तृतीय व एकादश भाव पर होगी,

बृहस्पति के लग्न पर प्रभाव के कारण आपके विचारों में सात्विकता की वृद्धि होगी एवं हर एक कार्यों में सफलता मिलेगी, बृहस्पति के तृतीय भाव पर दृष्टि के प्रभाव से आपके साहस व मनोबल में वृद्धि होगी साथ ही साथ छोटी छोटी यात्राओं का भी योग बनेगा, बृहस्पति के एकादश भाव पर दृष्टि के प्रभाव से आपके आय में वृद्धि होगी एवं समाज के मान प्रतिष्ठित लोगों से सम्पर्क से लाभ मिलेगा, 

इस वर्ष शनिदेव वर्ष पर्यन्त 29 अप्रैल से 12 जुलाई के अलावा अपनी स्वराशि मकर में स्थित रहेंगे, जहाँ से शनिदेव की दृष्टि द्वितीय; सप्तम एवं एकादश भाव पर होगी, शनिदेव के द्वितीय भाव पर प्रभाव से पूर्वार्जित जायजाद में वृद्धि होती है एवं पैतृक संस्कारों का प्रभाव आप पर बढ़ेगा, शनिदेव के एकादश भाव पर प्रभाव से शेयर या कमोडिटी बाजार से लाभ हो सकता है एवं आपके श्रम का अच्छा प्रतिफल मिलेगा, 

इस वर्ष आपको राजकीय कार्यों में सफलता मिल सकती है, वर्ष का उत्तरार्ध आपके लिये उन्नतिदायक समय ला सकता है, इस वर्ष आप धार्मिक गतिविधियों में बढ़ चढ़ कर भाग लेंगे, आपकी वो योजनायें जो काफी समय से अटकी हुई है वो सभी योजनायें गतिमान हो सकती है या पूर्ण हो सकती है, 

12 अप्रैल से पहले राहु के नवम भाव पर प्रभाव के कारण अकस्मात रूप से कोई शुभ घटना घट सकती है जिसके प्रभाव से आपको कोई पदवृद्धि या पिता से लाभ मिल सकता है, इस वर्ष आप अपने कार्यों की अधिकता को लेकर थोड़ा अधिक व्यस्तता का सामना करना पड़ सकता है, इस वर्ष आवेश में आकर किसी से उलझना आपको परेशान कर सकता है अत: आपको अपने वाणी व क्रोध पर नियन्त्रण रखना होगा, 

रुपये के लेनदेन को मौखिक रूप से याद रखने की अपेक्षा उसका विवरण लिखित रूप से अपने पास रखें क्योंकि कुछ भ्रम के कारण गलतफहमी हो सकती है, इस समय आपको मानसिक शान्ति का अनुभव होगा और आपका वजन बढ़ सकता है, 

इस वर्ष शत्रुओं की गतिविधियों को नजरअंदाज करना कष्टकारी हो सकता है तथा आपको वाहन चलाने में थोड़ी सावधानी रखनी होगी दुर्घटना का योग है, आपका अपने मित्रों से थोड़ा वैचारिक मतभेद हो सकता है, इस वर्ष समाज में आपकी प्रतिष्ठा बरकरार रहेगी |

इस वर्ष को अपने अनुकूल करने व सर्वोन्नती के लिये दोमुखी, चारमुखी व छहमुखी इन तीनों रुद्राक्षों को धारण करें |

 

 

कन्या राशिफल ( kanya rashifal )- व्यवसाय :

कन्या राशिफल के अनुसार इस वर्ष आपके व्यवसाय में थोड़ा उतार चढ़ाव बना रहेगा, इस वर्ष नई उपलब्धियां आपकी प्रतीक्षा कर रहीं है और आप कई नई नई योजनाओं पर अमल कर सकते है जो की भविष्य के लिये लाभकारी हो सकता है, इस वर्ष आपको अपने व्यवसायिक गतिविधियों में लापरवाही से बचना होगा, इस वर्ष बृहस्पति का शुभ प्रभाव पुरे वर्ष सम्मिलित रूप से दशम और एकादश भाव में होने से आय में वृद्धि होगी तथा व्यापार उन्नति की ओर अग्रसर होगा, 

यदि आप व्यापार करते है तो मौसमी व्यापार में अतिरिक्त सावधानी रखनी होगी,यदि आपका व्यापार साझीदारी में हो तो साझेदार पर आँख बंद कर भरोसा न करें, यदि आप नौकरी पेशा हैं तो यह वर्ष नौकरी में परिवर्तन के लिए अनुकूल नहीं है, आपका अपने सहकर्मियों से सम्बन्ध तनावपूर्ण रहेगा, इस वर्ष आपके उच्चाधिकारी आपके कार्यो से प्रसन्न रहेंगे एवं आपके कार्यों की प्रशंसा होगी |

अपने व्यवसाय के उन्नति हेतु आप  “कनकधारा स्तोत्र” का पाठ करें |  

कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) – स्वास्थ्य :

कन्या राशिफल के अनुसार इस वर्ष आपका स्वास्थ्य सामान्यतया ठीक रहेगा, पहले से चली आ रही बीमारियों में आराम मिलेगा, इस वर्ष किसी गम्भीर बीमारी के होने की सम्भावना नही है, आपको इस वर्ष वायु विकार; ज्वर; फोड़े फुंसी आदि का सामना करना पड़ सकता है, खानपान पर नियंत्रण रखें अन्यथा पेट के रोगों का सामना करना पड़ सकता है, अच्छे स्वास्थ्य लाभ के लिए अपनी जीवन शैली को नियमित रखें | 

कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) – दाम्पत्य जीवन एवं पारिवारिक जीवन :

कन्या राशिफल के अनुसार पारिवारिक सुख शान्ति की दृष्टि से यह वर्ष बहुत ही उत्तम रहेगा, 13 अप्रैल के पश्चात देवगुरु बृहस्पति के सप्तम भाव में आने से दम्पत्तियों के मध्य पहले से चले आ रहे विवाद का सुखद समापन होगा, शनि की सप्तम भाव पर दृष्टि के कारण आपको अपने पति या पत्नी के स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा, यदि आपकी कोई संतान है तो शनि के पञ्चम भाव पर प्रभाव के कारण संतान से मानसिक दुरी बन सकती है, भाई बहनों से मधुर सम्बन्ध बना रहेगा |

 

कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) – शिक्षा :

कन्या राशिफल के अनुसार यह वर्ष विद्यार्थियों के लिए सामान्य रहेगा, इस वर्ष विद्यार्थियों को दिवा स्वप्न से बाहर निकल कर वास्तविक स्थितियों का सामना करना होगा एवं मनोकूल परिणाम पाने के लिए नियमित रूप से गहन अध्ययन करने की आवश्यकता होगी, जो भी विद्यार्थी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे है उन्हें इस वर्ष सफलता मिलने की सम्भावना है, इस वर्ष आपका अपने मित्रों के कारण पढ़ाई से मन उचाट हो सकता है |

यदि पढ़ाई से अधिक मन उचाट हो रहा हो 11 शनिवार पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक सायंकाल में जलायें | 

 कन्या राशिफल ( kanya rashifal ) – उपाय :

कन्या राशिफल के अनुसार इस वर्ष यदि आप परिस्थितियों को अपने प्रतिकूल महसूस कर रहे हो तो निम्न उपाय करें जिससे आपको काफी राहत मिलेगी –   

  • शनि शान्ति का उपाय करें |
  • गरीबोँ को अन्न दान करें |
  • अमावस्या या पूर्णिमा को पीपल के पेड़ में प्रात:काल जल चढायें |

गणपति अथर्वशीर्ष से लाभ व पाठ विधि

रुद्राक्ष धारण करने से लाभ व धारण विधि                         

नवग्रह शान्ति विधि

यदि आप अपनी कुण्डली के अनुसार अपना भविष्य जानना चाहते है या किसी विशेष प्रश्न का ज्योतिषीय हल चाहते है तो एस्ट्रोरुद्राक्ष के ज्योतिषी से अभी परामर्श लें

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp