कर्क राशिफल २०२१

कर्क राशिफल २०२१

गोचरीय स्थिति :

वर्ष २०२१ में शनि का गोचर अपने स्व राशि मकर अर्थात आपके सप्तम भाव में पूरे वर्ष रहेगा जहाँ से शनि की दृष्टि नवम भाव, लग्न एवं चतुर्थ भाव पर होगी |

बृहस्पति  का भी गोचर ६ अप्रैल २०२१ तक मकर राशि में शनि के साथ रहेगा, बृहस्पति ६ अप्रैल २०२१ से कुम्भ राशि अर्थात एकादश भाव में गोचर करेगा, वर्ष के मध्य में २० जून २०२१ से कुल १२० दिन के लिए बृहस्पति वक्री हो जाएगा, इसी वक्रकाल में १४ सितम्बर २०२१ को बृहस्पति वक्री अवस्था में रहते हुए अपनी पूर्ववत राशि मकर में प्रवेश करेगा, यहाँ से १८ अक्टूबर २०२१ को बृहस्पति मार्गी होकर मकर राशि में भ्रमण करता हुआ २१ नवम्बर २०२१ को कुम्भ राशि में पुनः प्रवेश करेगा |

जब बृहस्पति मकर राशि में भ्रमण करेगा तब उसकी दृष्टि एकादश भाव, लग्न एवं तृतीय भाव पर पड़ेगी और जब कुम्भ राशि में भ्रमण करेगा तब उसकी दृष्टि द्वादश भाव, द्वितीय भाव एवं चतुर्थ भाव पर पड़ेगी |

राहू पुरे वर्ष वृष राशि अर्थात एकादश भाव में गोचर करेगा और केतु वृश्चिक राशि अर्थात पञ्चम भाव में गोचर करेगा |

           

कर्क राशि का सामान्य फल :

यह वर्ष आपके और आपके परिवार के लिए महत्वपूर्ण सिद्ध होगा, इस वर्ष आपको भावुकता का त्याग कर थोड़ा व्यावहारिक बनाना होगा | आपको मानसिक रूप से सबल बनना होगा क्योंकि इस वर्ष शनि महाराज की लग्न पर दृष्टि होने के कारण आपके अन्दर वैराग्य या पलायनवादी भाव आ सकता है | वर्ष का मध्य भाग आपके लिये उन्नतिदायक समय ला सकता है इस समय आपको मानसिक शान्ति का अनुभव होगा | इस वर्ष आपको अपनी माँ का विशेष ख्याल रखना चाहिए और उनकी कही बातों का मनन करने से आपको सबलता मीलेगी | आपको इस वर्ष आपको अपने भाई बहनों से सहयोग प्राप्त होगा | इस वर्ष धन का व्यय शुभ कार्यो में हो सकता है |    

  

कर्क राशि का व्यवसाय :

यह वर्ष आपको अपने व्यवसाय में मानसिक परेशानियाँ दे सकता है | व्यवसाय से सम्बंधित निर्णयों को सावधानीपूर्वक ले क्योंकि आप जो भी निर्णय आपने व्यवसाय के सम्बन्ध लेंगे उसका प्रभाव दूरगामी होगा | यदि आप व्यापार कर रहें हैं तो इस वर्ष आपको अपने कर्मचारियों का ध्यान रखना होगा इससे शनि देव आप पर प्रसन्न होंगे और आपको मनोवांछित फल प्रदान करेंगे, साझीदारी व्यापार में आपको अपने साझीदार से सहयोग मिलेगा, यदि आपका विवाह हो गया हो और आप कोई नया व्यापार प्रारम्भ करना चाहते है तो अपने पति या पत्नी को अपने साथ सक्रिय साझेदार बनाएं यह आपके लिए बहुत लाभप्रद होगा | यदि आप नौकरी कर रहे हो तो इस वर्ष अपने सहकर्मियों से सामंजस्य बना कर चलना होगा और उच्चाधिकारियों के बातो की अवहेलना करना उचित नहीं होगा |   

 

कर्क राशि का स्वास्थ्य :

इस वर्ष लग्न पर शनि की दृष्टि होने से आपको अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान रखना होगा | इस वर्ष आपको थोड़ा बहुत अवसाद का सामना करना पड़ सकता है | इस वर्ष सर्दी जुकाम या ज्वर आदि से आसानी से प्रभावित हो सकते हैं, पहले से चली आ रही बीमारीयों का विशेष ध्यान रखना होगा | इस वर्ष आपको अपने नेत्रों का भी विशेष ध्यान रखना होगा यदि आप चश्मा लगाते है तो अपने आखों के नम्बर की जांच अवश्य करा लें |   

 

कर्क राशि की शिक्षा :

इस वर्ष विद्यार्थियों को दिवा स्वप्न से बाहर निकल कर वास्तविक स्थितियों का सामना करना चाहीये | यह वर्ष आपके लिए ज्ञान वृद्धि के लिए काफी महत्वपूर्ण सिद्ध होगा | वर्ष के पूर्वार्द्ध व उत्तरार्ध में जब लग्न पर बृहस्पति की दृष्टी पड़ेगी तब थोड़े प्रयास से ही अपने विषय को समझने में सहायता मिलेगी | प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेने वाले विद्यार्थियों को सफलता मिल सकती है इसके लिये आवश्यक है की आप अपने मनोबल को उच्च स्तर पर बनाये रखें | 

 

कर्क राशि के लिए उपाय :

इस वर्ष यदि आप समय आपने प्रतिकूल महसूस कर रहे हो तो निम्न उपाय करें जिससे आपको काफी राहत मिलेगी-   

  • भगवान शिव की आराधना करें एवं उनका अभिषेक करें |
  • दो मुखी रुद्राक्ष धारण करें |
  • पक्षियों को दाना खिलायें |