तुला राशिफल Tula Rashifal 2022

tula rashifal

तुला राशिफल Tula Rashifal 2022

तुला राशिफल ( tula rashifal ) 2022 के लिये गोचरीय स्थिति :

तुला राशिफल ( tula rashifal ) 2022 के लिये शनि की स्थिति

  • शनि का गोचर अपने स्व राशि मकर अर्थात चतुर्थ भाव में वर्ष के प्रारम्भ से रहेगा,
  • शनि 29 अप्रैल 2022 को अपनी मूल त्रिकोण राशि कुम्भ अर्थात पञ्चम भाव में प्रवेश करेगा,
  • शनि 5 जून 2022 से वक्री हो जायेगा,
  • शनि 12 जुलाई 2022 को वक्री अवस्था में ही अपनी पूर्व राशि मकर में प्रवेश करेगा,
  • शनि 23 अक्टूबर 2022 से मार्गी हो जायेगा,

शनि का नक्षत्र भ्रमण

  • श्रवण नक्षत्र में वर्ष के प्रारम्भ से
  • धनिष्ठा नक्षत्र में 18 फरवरी 2022 से

तुला राशिफल ( tula rashifal ) 2022 के लिये बृहस्पति की स्थिति

  • बृहस्पति का गोचर कुम्भ राशि अर्थात पञ्चम भाव में वर्ष के प्रारम्भ से रहेगा,
  • बृहस्पति 13 अप्रैल 2022 को अपनी स्वराशि षष्ठम अर्थात द्वादश भाव में प्रवेश करेगा,
  • बृहस्पति 29 जुलाई 2022 से वक्री हो जायेगा,
  • बृहस्पति 24 नवंबर 2022 से मार्गी हो जायेगा,

बृहस्पति का नक्षत्र भ्रमण

  • शतभिषा नक्षत्र में 2 जनवरी 2022 से
  • पूर्व भाद्रपद नक्षत्र में 2 मार्च 2022 से
  • उत्तर भाद्रपद नक्षत्र में 28 अप्रैल 2022 से

तुला राशिफल ( tula rashifal ) 2022 के लिये राहु की स्थिति

  • राहु का गोचर वृष राशि अर्थात अष्टम भाव में वर्ष के प्रारम्भ से रहेगा,
  • राहु 12 अप्रैल 2022 को मेष राशि अर्थात सप्तम भाव में प्रवेश करेगा,

राहु का नक्षत्र भ्रमण

  • भरणी नक्षत्र में 14 जून 2022 से

तुला राशिफल ( tula rashifal ) 2022 के लिये केतु की स्थिति

  • केतु का गोचर वृश्चिक राशि अर्थात द्वितीय भाव में वर्ष के प्रारम्भ से रहेगा,
  • केतु 12 अप्रैल 2022 को तुला राशि अर्थात लग्न में प्रवेश करेगा,

केतु  का नक्षत्र भ्रमण

  • विशाखा नक्षत्र में 8 फरवरी 2022 से
  • स्वाति नक्षत्र में 18 अक्टूबर 2022 से
1.

तुला राशिफल ( tula rashifal ) :

तुला राशिफल में ग्रहों की स्थितियों के अनुसार यह वर्ष आपके लिये लाभकारी रहेगा, यह वर्ष आपके जीवन में बहुत ही अच्छा परिवर्तन लेकर आयेगा एक ओर शनि देव की दृष्टि लग्न पर रहेगी तो दूसरी ओर बृहस्पति देव की शुभदायक दृष्टि लग्न पर 13 अप्रैल तक रहेगी, शास्त्रों के अनुसार तुला राशि वालों के लिये शनि योगकारक होता है,

 इस वर्ष शनिदेव वर्ष पर्यन्त 29 अप्रैल से 12 जुलाई के अलावा अपनी स्वराशि मकर में स्थित रहेंगे, जहाँ से शनिदेव की दृष्टि लग्न; षष्ठम एवं दशम  भाव पर होगी, इस वर्ष शनिदेव की लग्न पर दृष्टि के प्रभाव से अपने जीवन के संघर्षो के कारण आपके अन्दर वैराग्य या पलायनवादी भाव आ सकता है इस स्थिति पर नियंत्रण के लिये आपको मानसिक रूप से सबल बनना होगा,

शनिदेव की छठे भाव पर दृष्टि के प्रभाव से आपके शत्रुओं के सारे षड्यंत्र निष्फल होंगे एवं आप इन सभी बातों से सुरक्षित रहेंगे, इस वर्ष आपको अपने ऊपर ध्यान देने की आवश्यकता होगी अपने विचारों से नकारात्मकता को हटा कर विचारों को परिष्कृत करना होगा, 

13 अप्रैल के पश्चात स्वराशिस्थ बृहस्पति छठे भाव में गोचर करेगा जहां से बृहस्पति की दृष्टि द्वितीय ; दशम व द्वादश भाव पर होगी, बृहस्पति के द्वितीय भाव पर प्रभाव से विविध प्रकार के मधुर व्यंजनों का सुख मिलेगा और यदि कोई पैतृक संपत्ति का विवाद चल रहा हो तो उसके न्यायपूर्ण हल मिलने की सम्भावना रहेगी, बृहस्पति के द्वादश भाव पर दृष्टि के प्रभाव से विदेश यात्राओं का अवसर मिल सकता है एवं धन का व्यय शुभ कार्यों में होगा,

12 अप्रैल से लग्न पर केतु के प्रभाव से आपको मानसिक दबाव का सामना करना पड़ सकता है परन्तु यदि आप धैर्य व बुद्धिमता का आलम्बन लेते हैं तो यही केतु जो ध्वजा का कारक होता है आपको सर्वत्र विजय दिलायेगा, इस वर्ष आपको निवेश से लाभ मिलने की सम्भावना है, इस वर्ष आप यदि अति उत्साह से कोई भी निर्णय लेते है तो उसकी समीक्षा बहुत ही सावधानी से करें क्योंकि अति उत्साह आपके लिए हानिकारक साबित हो सकता है,

यदि आप अविवाहित हैं तो विवाह होने में थोड़ा विलम्ब हो सकता है किसी भी प्रकार के विवाद से आपको बचना चाहिये, इस वर्ष भूमि भवन से सम्बंधित कोई विवाद हो सकता है विवाद को संयम व विवेक से हल करें, थोड़ी भी असावधानी से विवाद बहुत अधिक बढ़ सकता है |

इस वर्ष को अपने अनुकूल करने व सर्वोन्नती के लिये दोमुखी, छहमुखी व सातमुखी इन तीनों रुद्राक्षों को धारण करें |

तुला राशिफल ( tula rashifal ) – व्यवसाय :

तुला राशिफल के अनुसार यह वर्ष आपके व्यवसाय के लिए बहुत महत्वपूर्ण सिद्ध होगा, इस वर्ष आप जो भी सूझबूझ व दूरदर्शिता से व्यावसायिक निर्णय लेंगे उसका आपको दीर्घकालिक लाभ मिलेगा, आपकी उदारता व मृदुभाषिता से आपको व्यावसायिक लाभ मिल सकता हैं, यदि आप व्यापार कर रहें हैं तो इस वर्ष आपको अपने कर्मचारियों का ध्यान रखना होगा इससे शनि देव आप पर प्रसन्न होंगे और आपको मनोवांछित फल प्रदान करेंगे, साझीदारी व्यापार में आपको अपने साझेदार से सहयोग मिलेगा,

बृहस्पति का शुभ प्रभाव आपके व्यवसाय को नया आयाम प्रदान करेगा, व्यापार में उधार देने में सावधानी रखें, यदि आप नौकरीपेशा हैं तो आपके लिये अपने कार्यस्थल पर सभी से मधुर व्यवहार रखना लाभप्रद होगा और कार्यस्थल पर सभी का सहयोग व मान सम्मान मिलेगा, उच्चाधिकारी आपके कार्यो व परिश्रम का ध्यान रखेंगे और उसका समुचित प्रतिफल भी आपको मिलेगा | अपने व्यवसाय के उन्नति हेतु आप  “दशरथ कृत शनि स्तोत्र” का पाठ करें |

 

तुला राशिफल ( tula rashifal )– स्वास्थ्य :

तुला राशिफल के अनुसार इस वर्ष आपका स्वास्थ्य वर्ष के प्रारम्भ से सामान्य रहेगा फिर 13 अप्रैल से बृहस्पति का छठे भाव पर गोचर होने से आपको अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान रखना होगा, पहले से चले आ रहे रोगों पर विशेष ध्यान दें किसी भी प्रकार की लापरवाही का परिणाम कष्टकारी हो सकता है, 

आपको रक्तचाप या मधुमेह से कष्ट हो सकता है, आपको किसी बात को लेकर अधिक मानसिक तनाव की अपेक्षा अपने आपको शान्त रखना होगा और बहुत ही ज्यादा सोच विचार या चिन्ताओं से भी बचना आपके लिये ठीक होगा, इस वर्ष स्वास्थ्य लाभ के लिये “महामृत्युंजय मंत्र” का जाप करें |

तुला राशिफल ( tula rashifal ) – दाम्पत्य जीवन एवं पारिवारिक जीवन :

तुला राशिफल के अनुसार पारिवारिक सुख शान्ति की दृष्टि से यह वर्ष मध्यम रहेगा, 12 अप्रैल के पश्चात सप्तम भाव पर राहु के प्रभाव से दम्पत्तियों के मध्य किसी भ्रम या बेवजह के शक के कारण आपसी विवाद हो सकता है, पारिवारिक सदस्यों से किसी भी प्रकार के विवाद से आपको बचना होगा, इस वर्ष रिश्तेदार लोग आपसे दुरी बनाने का प्रयास करेंगे, आपको परिवार के बुजर्ग व्यक्तियों के स्वास्थ्य का ध्यान समुचित रूप से रखना होगा, भाई बहनों से अच्छा सम्बन्ध बना रहेगा, इस वर्ष आपको अपनी माँ का विशेष ख्याल रखना चाहिए और उनकी कही बातों का मनन करने से आपको सबलता मीलेगी |

 

तुला राशिफल ( tula rashifal ) – शिक्षा :

तुला राशिफल के अनुसार इस वर्ष का पूर्वार्ध विद्यार्थियों के अनुकूल रहेगा एवं उच्च शिक्षा प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को अपने विषय को समझने में आसानी होगी, वर्ष के उत्तरार्द्ध में प्रतियोगी परीक्षाओं में भाग लेने वाले प्रतियोगियों के लिये समय थोडा प्रतिकूल रहेगा अतः एकाग्रता व उच्च मनोबल के साथ परीक्षाओं की तैयारी करना होगा, इस वर्ष आप अपने पढ़ाई के साथ किसी भी प्रकार का समझौता न करें, जो विद्यार्थी विदेश में शिक्षा ग्रहण करना चाहते है उनके विदेश जाने की सम्भावना बहुत है | 

तुला राशिफल ( tula rashifal ) – उपाय :

तुला राशिफल के अनुसार इस वर्ष यदि आप परिस्थितियों को अपने प्रतिकूल महसूस कर रहे हो तो निम्न उपाय करें जिससे आपको काफी राहत मिलेगी –     

  • किसी मन्दिर में यथा शक्ति चने की दाल का दान करें
  • केतु ग्रह की शान्ति करें
  • माता लक्ष्मी की आराधना करें

गणपति अथर्वशीर्ष से लाभ व पाठ विधि

रुद्राक्ष धारण करने से लाभ व धारण विधि                         

नवग्रह शान्ति विधि

यदि आप अपनी कुण्डली के अनुसार अपना भविष्य जानना चाहते है या किसी विशेष प्रश्न का ज्योतिषीय हल चाहते है तो एस्ट्रोरुद्राक्ष के ज्योतिषी से अभी परामर्श लें

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on telegram
Share on whatsapp